Corn Flour in Hindi कॉर्न फ्लौर क्या है कैसे बनाये घर में

Corn flour in hindi 

नमस्कार दोस्तों इस पोस्ट में हम आपको बताने वाले है Corn flour in Hindi के बारे में।कॉर्न फ्लौर क्या होता है ,कॉर्न फ्लौर को आप कैसे बना सकते है इसके इस्तेमाल और कॉर्न फ्लौर के फायदे के बारे में।


Corn flour in hindi

Corn flour meaning in hindi

Corn flour in Hindi:कॉर्न फ्लौर दो शब्दों से मिलकर बना है कॉर्न + फ्लौर जिसमे कॉर्न का मतलब है मक्का और फ्लौर का मतलब है आटा अगर हम इन दोनों शब्दों को जोड़े तो इसका मतलब निकलता है मक्के का आटा।

इसे भले ही मक्के का आटा कहा जाता है लेकिन यह वह आटा नहीं है जो आप समझ रहे है। कॉर्न फ्लौर को अलग तरिके से तैयार किया जाता है। इसको बनाने के लिए मक्के के दाने के अंदरूनी सफेद भाग का इस्तेमाल किया जाता है।


जो आटा हम मक्की की रोटी को  बनाने के लिए इस्तेमाल करते है उसे  मक्के के दाने के अंदरूनी और बाहरी भाग को पीस कर बनाया जाता है और कॉर्न फ्लौर को सिर्फ अंदरूनी सफेद भाग से बनाया जाता है। 

What is corn flour in Hindi 

कॉर्न फ्लौर एक तरह का पाउडर होता है जिसे मक्के के दानो से बनाया जाता है। इस पाउडर का इस्तेमाल घर में आप किसी भी तरल पदार्थ को गाढ़ा करने के लिए कर सकते है। 
कॉर्न फ्लौर इंसान के लिए बहुत फायदेमंद होता है क्यूंकि इसमें बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते है। यह पाउडर बच्चो के लिए भी बहुत फायदेमंद साबित होता है। 




How to make corn flour  :कॉर्न फ्लोर कैसे बनाते हैं

कॉर्न फ्लौर को आपको मार्किट से खरीदने की कोई जरूरत नहीं है क्यूंकि इसे आप बहुत आसानी से घर में बना सकते है। इसे बनाने के लिए आपको किसी भी तरह की कोई ख़ास सामग्री की आवश्यकता नहीं पड़ती। तो चलिए दोस्तों सीखते है कॉर्न फ्लौर या कॉर्न स्ट्रेच को घर में कैसे बनाये। 
1. मक्के के दानो को पहले आप अच्छी तरह से धो ले और उसे अच्छी तरह से धुप में सूखा ले।
2. अच्छी तरह से सूखने के बाद अब आपको इनके छिलके को उतारना होगा जिसमे आपको थोड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। 
3. छिलके उतरने के बाद आप इसे मिक्सर में दाल दे और उसमे थोड़ा से पानी ऐड कर दे।4. अब मिक्सर स्टार्ट करे और अच्छी तरह से इसका पेस्ट बना ले। 
5. पेस्ट तैयार होने के बाद इसको आप एक कपड़े में छान ले और बचे हुए कचड़े को फेंक दे। 
6. 10 मिनट तक उसे किसी कपड़े में रहने दे। 
7. 10 मिनट तक कपड़े में रखने के बाद इसमें थोड़ा सा पानी ऐड करे और इसे अच्छी तरह से निचोड़ ले। 
8. जो पेस्ट आपके पास तैयार होकर आया उसे आप सूखने के लिए रख दे। 
9. पेस्ट का पूरी तरह से सूखने के बाद आप इसे फिर से मिक्सर में ढाल दे और अच्छी तरह से मिक्स कर ले 
10. आपका कॉर्न फ्लौर अब पूरी तरह से तैयार से है आप अब इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। 

use of corn flour in hindi (कॉर्न फ्लौर का इस्तेमाल हिंदी में) 

कॉर्न फ्लौर का इस्तेमाल आप किसी भी तरल पदार्थ को गाढ़ा करने के लिए कर सकते है जैसे सॉस, स्टेव और सूप को गाढ़ा करने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते है। 
1. कटलेट, कोफ्ता को बनाने के लिए भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते है। 
2. अगर आप दूध से मिठाई बनाना चाहते है तो दूध को गाढ़ा करने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। 
3.आलू की टिक्की बनाने के लिए भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते है। आलू की टिक्की बनाते समय आप इसकी थोड़ी मात्रा पेस्ट में ढाल दे जिसकी वजह से आपकी आलू की टिक्की टूटेगी नहीं। 
4.जिन लोगो को ग्लूटेन से परेशानी होती है वह लोग इसका इस्तेमाल कर सकते है क्यूंकि कॉर्न फ्लौर में ग्लूटेन नहीं होता।  
5.इसका इस्तेमाल आप कोफ्ते बनाने में भी कर सकते है। 
6.मंचूरियन की ग्रेवी को गाढ़ा करने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। 
7.फ्रेन्च फ्राय को क्रिस्पी  बनाने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। 
8.घर में गुलाब जामुन बनाने के लिए भी आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Benefits of corn flour in Hindi


1.Corn flour में पॉलीफेनोल्स एंटीओक्सिडेंट (Polyphenols antioxidants) नामक तत्व पाया जाता है जो किसी भी तरह की सूजन को काम करने में सक्षम होता है। अगर आपको किसी भी कारण से  शरीर के किसी भी अंग में  सूजन आ गयी है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते है। यह आपकी सूजन को धीरे धीरे काम कर देगा।



डोसा बनाने की विधि

2.जिन लोगो को ग्लूटेन से एलर्जी होती है उनके लिए यह एक बहुत ही फायदेमंद चीज़ है। इसमें ग्लूटेन नहीं होता इसलिए आप इसे उन लोगो को सर्व कर सकते हैं जिन्हे ग्लूटेन से एलर्जी है। 

यह प्रोटीन की कमी को दूर करने के लिए बहुत मददगार होता है क्यूंकि इसमें प्रोटीन की मात्रा बहुत अधिक होती हैं। 
3.इसमें फाइबर की मात्रा भी बहुत अच्छी होती है।

white corn flour in hindi

कॉर्न फ्लौर को वाइट कॉर्न फ्लौर भी कहा जाता है जिसका हिंदी में मतलब  होता है सफेद मकई का आट। इसे corn starch और  corn flour powder (corn flour powder in hindi) भी कहा जाता है। 

Health benefits of corn flour in hindi

मक्के का आटा पाचन के लिए बहुत फायदेमंद होता है। 

मकई में फाइबर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। इसमें दोनों तरह के फाइबर उपलब्ध होते है अघुलनशील फाइबर और घुलनशील फाइबर लेकिन अघुलनशील की मात्रा इसमें ज्यादा होती है। घुलनशील फाइबर हमारे शरीर में कोलेस्ट्रॉल अवशोषण को अवरुद्ध करने में मदद करता है और अघुलनशील फाइबर आंतों की समस्याओं को रोकता है। कब्ज और बबासीर और कोलन कैंसर को रोकने में भी मदद करता है। 

मकई का आटा एनीमिया रोकने में मदद करता है 

मकई के आटे में  आयरन की मात्रा बहुत अच्छी होती है। आयरन की मात्रा काम होने की वजह से हमे एनीमिया जैसी समस्या होती है। मकई के आटे को खाने से एनीमिया जैसी समस्या से हम बचे रह सकते हैं।

मकई का आटा ऊर्जा बढ़ाने में मदद  करता है

मकई के आटे में और मक्के में  कार्बोहाइड्रेट एक बड़ी बहुत मात्रा में उपलब्ध होती है जिसकी वजह से हमे मकई का आटा हमे  ऊर्जा  प्रदान करता है। कार्बोहाइड्रेट एथलीटों के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है। इसलिए ऊर्जा प्राप्त करने के लिए मकई के आटा या फिर मक्के का इस्तेमाल जरूर करे अपने खाने में। 

मकई का आटा कोलेस्ट्रॉल कम करने में मदद  करता है 

कोलेस्ट्रॉल की वजह से दिल कमजोर हो जाता है और कार्डियोवैस्कुलर की समस्या पैदा होती है। मकई के आटे में  विटामिन C, कैरोटीनोइड और बायोफ्लावोनोइड्स जैसे पोषक तत्व शामिल होते है जिनकी वजह से आपका दिल स्वस्थ रहता है और आपको कार्डियोवैस्कुलर की समस्या भी नहीं होती।

Corn flour benefits for Cancer

मकई का आटा कनेर जैसी भयानक बीमारी से लड़ने के लिए बहुत ही फायदेमंद है। मकई का आटा और मक्का फेनोलिक यौगिक, फेरिलिक एसिड का एक अच्छा स्रोत है जिसकी वजह से  स्तन और यकृत में ट्यूमर को रोकने में मदद मिलती है। 

हड्डी और मांसपेशिओं के लिए लाभदायक है मकई का आटा 

मकई के आटे में मैग्नीशियम, लौह, तांबा और फास्फोरस जैसे खनिजों की मात्रा बहुत अच्छी होती है जिसकी वजह से हमारे शरीर की हड्डियों को क्षय से रोकता है और शरीर की  मांसपेशिओं को भी मजबूत करता है।

मकई का आटा दिल के लिए बहुत फायदेमंद है 

मकई का आटा कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करता है जिसकी वजह से हमारा दिल स्वस्थ रहता है और हमे दिल की बीमारी से दूर रखता है। मकई का आटा दिल के स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है क्यूंकि इसमें फैटी एसिड संयोजन होता है जिसकी वजह से खराब कोलेस्ट्रॉल हमारे शरीर से दूर रहते है।

मकई का आटा अल्जाइमर रोग के लिए है फायदेमंद 

जैसे जैसे हमारी आयु बढ़ती जाती है वैसे ही अल्जाइमर रोग की आशंका ज्यादा होती जाती है। मकई थाइमाइन का एक बहुत ही अच्छा स्रोत है, जिससे हमे  ऊर्जा मिलती है और मस्तिष्क कोशिका के संज्ञानात्मक कार्य के लिए एंजाइमेटिक प्रतिक्रियाओं में एक अच्छी भूमिका निभाता है।

मकई का आटा मधुमेह को नियंत्रित करता है

मकई के आटे में बहुत ही अच्छी मात्रा में  B विटामिन, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन  उपलब्ध होती है जिसकी वजह से यह मधुमेह के लक्षणों को कम करने में बहुत ही प्रभावशाली है। मकई का लगातार सेवन करने से आप मधुमेह को नियंत्रित कर सकते है और आपको मधुमेह जैसे रोग भी नहीं होगा।

मक्की के आटे और कॉर्न फ्लोर में अंतर

मक्की के आटे को बनाने के लिए कॉर्न का पूरा दाना इस्तेमाल किया जाता है और कॉर्न फ्लौर बनाने के लिए कॉर्न के डेन में से छिलका निकल लिया जाता है और फिर उसको पीस कर उसका पाउडर तैयार किया जाता है। अधिकतर लोग मकई के आटे को ही कॉर्न फ्लौर समझते है लेकिन ऐसा नहीं है यह दोनों ही अलग है और इनका इस्तेमाल भी अलग अलग जगह में किया जाता है। मकई का आटा हम मक्की की रोटी को बनाने के लिए इस्तेमाल करते है और कॉर्न फ्लौर का इस्तेमाल हम सूप को गाढ़ा करने के लिए करते हैं। 

corn flour in punjabi

कॉर्न फ्लौर को पंजाबी में मक्की दा आटा कहा जाता है। 

Corn flour in hindi की यह पोस्ट आपको कैसी लगी अगर यह आपके लिए फायदेमंद साबित  हुयी तो प्लीज आप कमेंट करे और शेयर करे धन्यवाद .

Post a Comment

1 Comments

  1. kafi accha laga padhakar corn flour k bare me janakar ,mai ek try jarur karungi ,iss website kafi acha hai

    ReplyDelete